Amla Khane Ke Fayde | 100 बीमार‍ियों की एक दवा है आंवला – Amazing Benefits

0
53
Amla Khane Ke Fayde in Hindi
Amla Khane Ke Fayde in Hindi

Amla Khane Ke Fayde : नमस्ते दोस्तों आप लोगों ने आम, संतरा, केला, सेव यदि कई ऐसे फल खाए होंगे जो खाने में काफी स्वादिष्ट लगे होंगे लेकिन आज हम इस पोस्ट में एक ऐसे फल के बारे में जानने वाले हैं जो स्वाद में तो कसैला होता है लेकिन इसे खाने से हमारे शरीर को अनगिनत फायदे होते हैं, जिसे अंग्रेजी में Indian gooseberry और हिंदी में आंवला फल के नाम से जाना जाता है तो आइए जानते हैं इस आंवला फल के बारे में संपूर्ण जानकारी।

आंवला क्या है | What is Indian Gooseberry

आंवला एक ऐसा औषधीय फल है जिसके सेवन से बालो और चेहरा से लेकर अंगूठे के नाखून तक के लिए फायदेमंद होता है। जिससे ना जाने कई तरह के रोगों को जड़ से खत्म करने के लिए भी प्रयोग किया जाता है। आंवला को आयुर्वेद में अमृत फल या धात्रीफल भी कहा गया है आंवला फल आकार में गोल छोटा और हरे रंग का होता है जो स्वाद में कसाय होता है और यह आंवला फल पकने के बाद लाल रंग का हो जाता है।

इसे संस्कृत में अमृता, आमलकी और अमृताफल भी कहा गया है जिसका उपयोग मुरब्बा, जूस, अचार और कच्चा खाने में भी किया जाता है आंवला एक ऐसा फल है जिसके एक फल में चार संतरे के बराबर विटामिन सी पाया जाता है जो हमारे शरीर के लिए काफी फायदेमंद होता है।

आंवला के पौधे की जानकारी

आंवला का पौधा एक धारीय पौधा होता है जो लंबाई में 20 से 25 फीट ऊंचा होता है इसके छाल रात के रंग की होती है जिसमें लगने वाले पत्ते इमली के पत्तों के समान थोड़े बड़े होते हैं जिसके फूलों का रंग पीला व आकार घंटाकार होता है जो देखने में काफी खूबसूरत लगता है। इनके फूल मार्च से अप्रैल महीने में निकलना शुरू हो जाते हैं आंवला के पौधे एशिया, यूरोप एवं अफ्रीका में भी पाया जाता है भारत में हिमालय क्षेत्र तथा प्राद्वीपीय में काफी अधिक पाए जाते हैं।

Amla Khane Ke Fayde in Hindi | आंवला खाने के फायदे

आंवला में कार्बोहाइड्रेट, फास्फोरस, कैल्शियम, लोहा, फाइबर, पानी, प्रोटीन, वसा, रेशा, विटामिन सी आदि काफी प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं जिसके सेवन से कई फायदे (Fitness Benefits) होते हैं तो आइए जानते हैं इनके सेवन से होने वाले फायदे-

1. दिमाग तेज बनाएं

ऐसे कई लोग होते हैं जो दिमाग की कमजोरी से परेशान रहते हैं पढ़ा हुआ याद ना रहना, रखा हुआ कोई चीज भूल जाना आदि ऐसे कई समस्याएं होती है जिसमें लाभ पाने के लिए आप आंवला का सेवन कर सकते हैं। बता दें कि आंवला में कई विटामिन और खनिज होते हैं जो रक्त में आयरन की अधिक मात्रा मस्तिष्क को आक्सीजन प्रदान करती है साथ ही स्मृति में सुधार करती हैं।

2. बालों के लिए

दोस्तों आजकल के इस बढ़ती प्रदूषण की दुनिया में हर कोई अपने बालों को स्वस्थ व मजबूत रखना चाहता है और कई लोगों को प्रदूषण वसई पोषण ना मिलने के कारण समय से पहले ही बाल सफेद, टूटने व झड़ने होने लग जाते हैं जिसे ठीक करने के लिए लोग कई केमिकल वाली product भी यूज़ करते हैं जिससे कई तरह के नुकसान भी हो सकते हैं।

लेकिन बता दें कि आंवला एक प्राकृतिक हेयर टॉनिक है जो बालों को झड़ने, टूटने और समय से पहले सफेद होने वाले बालों को पोषण देता है और समय से पहले सफेद होने से रोकता है जिससे बाल लंबे,घने और मजबूत बनते हैं  जिसके लिए आप आंवला और तिल के तेल का मिश्रण बालों में लगाकर मालिश कर सकते हैं।

3. आंखों को स्वस्थ रखने के लिए

आंखें हमारे लिए कितना अनमोल है अंग है यह हम सभी जानते ही हैं जिसे स्वस्थ रखने के लिए आप आंवला के जूस में शहद मिलाकर पी सकते हैं इसमें कैरोटीन होता है जो आंखों में पानी आना, आंखें लाल होना, खुजली होना आदि समस्याओं को दूर करने में मदद करता है और आंखों को स्वस्थ बनाए रखता है।

4. पाचन शक्ति मजबूत बनाने के लिए

दोस्तों पाचन क्रिया सही ना होने के कारण अपच, गैस, कब्ज आदि कई समस्याएं पैदा हो जाती है जो आगे चलकर काफी खतरनाक रूप ले लेती है ऐसे में इन समस्याओं को दूर करने के लिए आप आंवला पाउडर गर्म पानी के साथ सेवन कर सकते हैं आंवला में फाइबर और इन्फ्लेमेटरी गुण होते हैं जो ऐसी समस्याओं को दूर कर पाचन क्रिया को मजबूत बनाता है।

5. हड्डियों को मजबूत बनाने के लिए

ऐसे कई व्यक्ति होते हैं जिन की हड्डियां काफी कमजोर होती है जिसके लिए भी आप इस आंवला का सेवन कर सकते हैं इसमें कैल्शियम काफी अधिक मात्रा में पाया जाता है जो हड्डियों को मजबूत बनाता है।

6. त्वचा के लिए

ऐसे लोग जिनके चेहरे पर मुंहासे और दाग धब्बे होते हैं वह आंवला पाउडर, गुलाब जल तथा नींबू रस को मिलाकर फेस पैक के रूप में इस्तेमाल कर सकते हैं इसमें विटामिन, एंटीवायरल और एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं जो त्वचा के कई रोगों से बचाते हैं इसके अलावा चेहरे को चमकदार बनाने के लिए आंवला का जूस का नियमित रूप से सेवन कर सकते हैं जो काफी लाभ पहुंचाता है।

7. रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए

ऐसे कई लोग होते हैं जो रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होने के कारण मामूली सी संक्रमण,  मौसम बदलाव के कारण तुरंत बीमार पड़ जाते हैं जिसका मुख्य कारण रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होना होता है जिसे मजबूत बनाने के लिए आप आंवला का सेवन कर सकते हैं। इसके लिए एक गिलास गर्म पानी में एक से दो ढक्कन आंवला जूस डालकर सेवन कर सकते हैं इसमें विटामिन सी काफी अधिक मात्रा में पाया जाता है जो रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ा देता है।

8. चेहरे का दाग-धब्बों से छुटकारा पाने के लिए

अगर चेहरे पर दाग धब्बे हैं तो आप इनके लिए भी आंवला जूस का प्रयोग कर सकते हैं इसके लिए आंवला के जूस को रुई में भिगोकर दाग धब्बों पर लगा सकते हैं यह दाग धब्बों को मिटाने में काफी मदद करती है और चेहरे पर चमक लाती हैं।

9. मुंह के छालों के लिए

दोस्तों ऐसे कई लोग होते हैं जिनको बार बार मुंह में छालों की समस्या होती रहती है जिसे ठीक करने के लिए आप आंवला के जूस मैं हल्का पानी डालकर गरारे कर सकते हैं इससे काफी लाभ होता है।

10. धातु रोग दूर करने के लिए

दोस्तों धातु रोग एक ऐसी रोग है जो काफी भयानक होती है इसमें पेशाब करते समय और पेशाब के साथ या पेशाब के पहले सफेद रंग का चिप-चिपा पदार्थ यानी वीर्य निकलता है जिसे धातु रोग कहते हैं इसके कारण शरीर काफी कमजोर हो जाता है इसके अलावा दिमाग कमजोर हो जाता है और हड़िया भी कमजोर हो जाती है।

ऐसे कई समस्याएं हो जाती हैं और ऐसे में धातु रोग को दूर करने के लिए का काफी सावधानी बरतनी पड़ती है जिसके साथ आप आंवला की गुठली रहित और 10 ग्राम चूर्ण को धूप में सुखाकर इसमें 2 गुना मिश्री मिलाकर इसे ताजे पानी के साथ सेवन कर सकते हैं इससे काफी लाभ मिलता है।

आंवला खाने के नुकसान

दोस्तों आंवला के फायदे तो आपने जान लिया लेकिन इसके साथ इसके कुछ नुकसान भी होते हैं जिन्हें जानना काफी जरूरी होता है-

  • आंवला की तासीर ठंडी होती है जिसके कारण इसके फल को सर्दियों में अधिक सेवन करने से सर्दी, खांसी, एवं बुखार भी हो सकता है।
  • अगर आप आवला के जूस में पानी मिलाकर नहीं पीते हैं तो इससे आपको कब्ज भी हो सकती है।
  • हृदय रोग वाले मरीज इसका सेवन से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर ले ले।
  • इसे अधिक मात्रा एवं लंबे समय तक सेवन करने से जितना हो सके बचे।

ये भी पढें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here